कांग्रेस और जेडीएस के बीच मनमुटाव, कर्नाटक में सियासी हलचल तेज

नई दिल्ली: कर्नाटक में अभी तक सियासी संकट ख़त्म नहीं हुआ है। कांग्रेस ने जेडीएस के साथ मिलाकर सरकार तो बना ली लेकिन दोनों के बीच मतभेद ख़त्म होने का नाम नहीं ले रहे। जेडीएस और कांग्रेस के इस मतभेद ने बीजेपी खेमे में हलचल बढ़ा दी है। आज बेंगलुरु में राज्य बीजेपी की अहम बैठक होगी। सूत्रों की माने तो इस बैठक में कर्नाटक के मौजूदा राजनैतिक हालात पर चर्चा की जाएगी। बीजेपी आगे की रणीनीति पर भी विचार विमर्श किया जायेगा।आपको बता दें कि ये पहली बैठक है जो स्टेट एक्ज़ीक्यूटिव की विधानसभा चुनाव के बाद होनी है। राज्य में पार्टी के अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि इस बैठक में उन उपायों की चर्चा की जाएगी जिसके द्वारा सरकार की चार साल की उपलब्धियों को जनता तक पहुँचाया जा सके। उल्लेखनीय है कि कर्नाटक चुनाव में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी। येदियुरप्पा ने मुख्यमंत्री पद की शपथ भी लेली लेकिन बहुमत साबित नहीं होने के बाद कांग्रेस-जेडीएस ने गठबंधन की सरकार बना ली।कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने कहा था कि गठबंधन में आये तनाव के चलते उन्हें संदेह है कि यह सरकार शायद ही अपना कार्यकाल पूरा कर पाए। सिद्धरमैया ने कहा था कि यह (सरकार) तब तक रहेगी जब तक संसदीय चुनाव पूरे नहीं हो जाते। उसके बाद सभी घटनाक्रम होंगे। जबकि इसके उलट परमेश्वरा ने कहा कि हम हम पांच साल तक इस सरकार को चलाने के लिए सहमत हुए हैं। बहार कौन क्या बात करता है इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।

वहीँ रविवार को कांग्रेस और जेडीएस ने अपने मतभेदों को ख़त्म करने के लिए बैठक बुलाई है।इसके अलावा इस बैठक में न्यूनतम साझा कार्यक्रम को भी आखिरी शक्ल दी जाएगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *