फ़िल्मों के ज़रिए खगोल विज्ञान को बढ़ावा देने की कोशिश

खगोल विज्ञान अपने आप में एक जटिल, आकर्षक और निरंतर विकसित होता हुआ विषय है। यह एक ऐसा विषय है जो मनुष्य द्वारा सदियों से अध्ययन किया गया है, फिर भी अन्वेषण के अवसरों और अनुत्तरित प्रश्नों के साथ इसका समृद्ध होना जारी है।
खगोल विज्ञान किसी के लिए जुनून और शौक, तो किसी के लिए एक आकर्षक करियर की संभावना हो सकता है। यही नहीं ये अपने आप में एक सतत शिक्षा का स्रोत हो सकता है।

यही कारण है कि गोवा के एक दंपति भारत में सभी बच्चों के लिए इस जटिल विज्ञान का ज्ञान सुलभ बनाने के लिए दो साल से अथक प्रयास कर रहे हैं। इंससिटेक प्रोडक्शन के संस्थापक और विज्ञान के प्रति उत्साही राकेश और सोनम राव, एक फिल्म निर्माता हैं, जो नवीन, शिक्षाप्रद और अच्छी तरह से रिसर्च की हुई फिल्मों और फोटोग्राफ़्स के माध्यम से बच्चों के बीच विज्ञान को बढ़ावा देने में विश्वास करते हैं।

राकेश प्रयासरत हैं वृत्तचित्र फिल्मों की एक ऐसी श्रृंखला विकसित करने में, जो खगोल विज्ञान पर भारतीय अनुसंधान को उजागर करेगी और युवाओं के लिए आसानी से उपलब्ध होगी।

भारत में खगोलीय शोध के बारे में फ़िल्मों के अलावा वो चार और फिल्में बना रहे हैं, जो अंतरिक्ष विज्ञान की मूलभूत अवधारणाओं को समझाएंगी। इस डॉक्युमेंट्री श्रृंखला में पहली है ‘डस्ट टू स्टार्स’ जिसे गोवा साइंस सेंटर द्वारा लांच किया गया है।

सार्वजनिक रूप से भी इस फ़िल्म को कई लोकप्रिय ऑनलाइन पोर्टल पर अपलोड किया गया है, ताकि अंतरिक्ष विज्ञान में दिलचस्पी रखने वाले खगोल विज्ञान के रहस्यों से कुछ सीख सकें और दूसरों के साथ इसे साझा कर सकें।