AIADMK के OPS-EPS गुट होंगे एक, दिनाकरन-शशिकला होंगे पार्टी से दूर

साथ आएंगे OPS-EPS

चेन्नईः तमिलनाडु में जयललिता की मृत्यु के बाद से AIADMK में सियासी घमासान मचा है। पार्टी दो गुटों में बंटी है लेकिन खबर है कि अब ये दोनों गुट एक होने जा रहे हैं।  एक गुट जया की करीबी शशिकला का है और सीएम पलानीस्वामी इसी गुट से हैं जबकि दूसरा गुट ओ. पन्नीरसेल्वम का है। वहीं, शशिकला और जयललिता के भतीजे दिनाकरन को पार्टी से दूर रखा जाएगा। AIADMK सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि पन्नीरसेल्वम गुट के दो मंत्री सरकार में शामिल हो सकते हैं। अगले हफ्ते दोनों गुट एक हो सकते हैं। इसके लिए AIADMK हेडक्वॉर्टर में एक फंक्शन होगा। इसमें पलानीस्वामी और पन्नीरसेल्वम दोनों शामिल हो सकते हैं। पन्नीरसेल्वम के डिप्टी सीएम बनने की भी अटकलें लगाई जा रही है। सूत्रों के मुताबिक AIADMK केंद्र सरकार में शामिल होकर एनडीए का हिस्सा बन सकती है।

मालूम हो कि अभी शशिकला आय से अधिक संपत्ति मामले में जेल में हैं। जयललिता की 5 दिसंबर 2016 को बीमारी के बाद मौत हो गई थी। जिसके बाद ओ पन्नीरसेल्वम को तमिलनाडु की सत्ता सौंपी गई थी लेकिन बाद में उनकी जगह उन्हें हटना पड़ा जिसके बाद AIADMK दो गुटों में बंट गई थी। शशिकला के जेल जाने के बाद पार्टी के डिप्टी जनरल सेक्रेटरी दिनाकरन ने पार्टी में कई पदों पर नियुक्ति की थी। नियुक्ति को लेकर सीएम पलानीस्वामी नाराज थे और उन्होंने दिनाकरन के किए तमाम नियुक्तियों को रद्द कर दिया था। इस घटनाक्रम के बाद दोनों गुटों के नेताओं में  बातचीत शुरू हुई थी। सूत्र बताते हैं कि मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने गुरुवार को पार्टी के 27 सदस्यों की मीटिंग बुलाई जिसमें दिनाकरन और शशिकला को पार्टी से दूर रखने का फैसला लिया गया ताकि दोनों गुट एक हो सके। पूर्व मुख्यमंत्री पन्नीरसेलवम गुट की मांग है कि जयललिता के परिवार से किसी को भी पार्टी में नहीं रखा जाए। बताया जाता है कि मुख्यमंत्री पलानीस्वामी भी पार्टी और सरकार में शशिकला और दिनाकरन की दखलंदाजी से परेशान थे और उन्हें पन्नीरसेलवम गुट की मांग मानने में कोई दिक्कत नहीं थी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *