आतंकवाद के खिलाफ पाकिस्तान की कार्रवाई और आतंकी नेटवर्क के खात्मे के लिए उठाए जा रहे कदमों को अमेरिका ने नकारा

नई दिल्लीः इस साल की शुरुआत से ही पाकिस्तान को अमेरिका जमकर लताड़ लगा रहा है। अपने ताज़ा बयान में अमेरिका ने आतंकवाद के खिलाफ पाकिस्तान की कार्रवाई और आतंकी नेटवर्क के खात्मे के लिए उठाए जा रहे कदमों को नाकाफी करार दिया है।आतंकवाद पर अमेरिकी विदेश मंत्रालय की ताज़ा कंट्री रिपोर्ट ने लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई न करने को लेकर पाकिस्तान को कठघरे में खड़ा किया है। रिपोर्ट के मुताबिक लश्कर और जैश जैसे समूह अब भी पाकिस्तान में खुले आम पैसा उगाही कर आतंकियों को प्रशिक्षित कर रहे हैं।

आपको बता दें कि मुम्बई आतंकी हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को हाउस अरेस्ट से भी रिहा कर दिया गया। यही नहीं, जो चुनाव जीतकर इमरान खान पाकिस्तान के पीएम बने हैं उस आम चुनाव में सईद की पार्टी ने भी हिस्सा लिया था लेकिन बुरी तरह हार गई।

यह पहला मौका नहीं है जब एक जमाने में पाकिस्तान के मित्र देशों में सबसे पहले आने वाले अमेरिका ने इसे लताड़ लगाई है। इस साल की शुरुआत में ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाक को लताड़ लगाई थी। उन्होंने कहा था कि अमेरिका द्वारा पाकिस्तान को दी गई करोड़ों डॉलर की सहायता राशि का गलत इस्तेमाल किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *