सपा-बसपा को मात देने के लिए भाजपा हिंदू वोट बैंक को करेगी मजबूत

लखनऊ:अगले साल 2019 में लोकसभा चुनाव होने हैं। इस आम चुनाव में फतह के लिए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की खास तैयारी है और उसकी नजर परंपरागत हिंदू वोटरों पर है। हिंदू वोटों को एकजुट करने के लिए बीजेपी उत्तर प्रदेश के सभी छोटे-बड़े मंदिरों, मठों और आश्रमों की लिस्ट तैयार कर रही है. इसके अलावा पार्टी अनुसूचित जाति और ओबीसी के तहत आने वाली जाति के लोगों की लिस्ट तैयार कर रही है. बताया जा रहा है कि बीजेपी इस रणनीति के जरिए धार्मिक स्थल के मुखिया से संपर्क करेगी और फिर उनके अनुयायियों तक पहुंचेगी। पार्टी की राज्य इकाई ने इसके लिए 1.4 लाख बूथ लेवल इंचार्ज को फॉर्म वितरित करने शुरू कर दिए हैं। जिसमें धार्मिक स्थल का नाम, उसका स्थान, संबंधित पुजारी का नाम और उनके मोबाइल नंबर लिखे जाएंगे। एक सूत्र ने बताया, ‘इसका लक्ष्य उस संस्थान के नेता और प्रमुख के जरिए फॉलोवर्स तक पहुंचने का है।’ दूसरी महत्वपूर्ण जानकारी जो पार्टी के नेता बूथ लेवल पर चाहते हैं उनमें उस क्षेत्र में रहने वाले एससी और ओबीसी सदस्यों की जानकारी शामिल है।बीजेपी सूत्रों की मानें तो पार्टी इस रणनीति के जरिए धार्मिक स्थल के मुखिया से संपर्क करेगी और फिर उनके अनुयायियों तक पहुंचेगी। बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष जेपीएस राठौर ने बताया कि बूथ सेक्शन कमिटी की बैठक 16 अगस्त से 25 अगस्त के बीच आयोजित की जाएगी। राज्य के उपाध्यक्ष जेपीएस राठौड़ ने कहा कि बूथ सेलेक्शन कमिटी की बैठक 16 अगस्त से 25 अगस्त के बीच होगी। उन्होंने कहा कि मैनेजमेंट कमिटी 29 लाख कार्यकर्ताओं की एक समर्पित टीम बनाएगा और उसमें से लगभग 11 लाख को ब्लॉक और जिला स्तर पर 40 लाख कार्यकर्ताओं का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए तैयार किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *