पार्टी टूटने से डरी कांग्रेस ने अपने 44 विधायकों को बेंगलूरु पहुँचाया

नई दिल्ली | कांग्रेस ने गुजरात में आठ अगस्त को होने वाले राज्यसभा चुनाव से पहले अपने विधायकों की और ‘‘टूट’’ से बचने के लिए पार्टी के 44 विधायकों को बेंगलूरू के एक रिसॉर्ट में पहुंचा दिया है। पिछले दो दिन में कांग्रेस के छह विधायक इस्तीफा दे चुके हैं और इनमें से तीन भाजपा में शामिल हो गए हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल गुजरात से राज्यसभा का चुनाव लड़ रहे हैं और 57 विधायकों में से छह के इस्तीफा देने के चलते पार्टी के लिए मुश्किल खड़ी हो रही है।

गुजरात कांग्रेस के महासचिव निशित व्यास ने पीटीआई से कहा, ‘‘कांग्रेस ने अपने 44 विधायकों को बेंगलूरू पहुंचा दिया है।’’ व्यास भी विधायकों के साथ बेंगलूरू में हैं।

उन्होंने दावा किया, ‘‘यह विधायकों की सुरक्षा के लिए है जिन्हें धमकी दी जा रही है कि यदि वे पाला बदलने पर सहमत नहीं हुए….इसीलिए हमने उन्हें बेंगलूरू लाने का फैसला किया।’’ मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने कांग्रेस के दावों को खारिज किया। उन्होंने कहा, ‘‘यह कांग्रेस की आंतिरक समस्या है क्योंकि इसके नेता विपक्ष शंकर सिंह वाघेला, इसके मुख्य सचेतक बलवंत सिंह राजपूत और प्रवक्ता तजेश्रीबेन पटेल इसलिए अलग हुए क्योंकि उन्होंने परेशानी झेली।’’ उन्होंने राजकोट में कहा, ‘‘वे अपने विधायकों को बेंगलूरू ले गए हैं क्योंकि उन्हें अपने विधायकों पर विश्वास नहीं है।’

This article was first published on http://www.manuinfo.com.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *