अयोध्या राम जन्मभूमि विवादित मामले में आज से सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

अयोध्या में विवादित भूमि पर पूरा मालिकाना हक भगवान रामलला विराजमान का है या किसी और का, यह अब सुप्रीम कोर्ट तय करेगा। सात साल बाद सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई शुरू हो रही है। तीन जजों की विशेष पीठ अयोध्या मामले में लंबित अपीलों और अर्जियों पर सुनवाई करेगी। इलाहाबाद हाई कोर्ट ने सात साल पहले विवादित 2.77 एकड़ भूमि का बंटवारा तीन बराबर हिस्सों में करने का आदेश दिया था। लेकिन किसी भी पक्ष को यह बंटवारा स्वीकार नहीं करते हुए सुप्रीम कोर्ट में इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती दी थी। इलाहाबाद हाई कोर्ट ने एक तीन हिस्सों में एक हिस्सा रामलला विराजमान, दूसरा हिस्सा निर्मोही अखाड़ा और तीसरा हिस्सा सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड में बांटने का आदेश दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने 9 मई, 2011 को अपील विचारार्थ स्वीकार करते हुए हाई कोर्ट के आदेश पर अंतरिम रोक लगा दी थी साथ ही सभी पक्षों को यथास्थिति कायम रखने के आदेश दिए थे जो फिलहाल लागू है। जस्टिस दीपक मिश्रा, अशोक भूषण व अब्दुल नजीर की पीठ शुक्रवार दो बजे मामले की सुनवाई करेगी। पीठ के समक्ष कुल 21 याचिकाएं सुनवाई के लिए लगी हैं। अयोध्या विवादित मामले की अब नियमित सुनवाई होगी या फिर इसको लेकर आज सिर्फ रूपरेखा तय की जाएगी ये आज की सुनवाई के बाद साफ हो पाएगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *