यशवंत सिन्हा ने कहा- जीएसटी को जल्दबाजी में लागू करना अर्थव्यवस्था के लिए घातक

यशवंत सिन्हा ने कहा- जीएसटी को जल्दबाजी में लागू करना अर्थव्यवस्था के लिए घातक
यशवंत सिन्हा ने कहा- जीएसटी को जल्दबाजी में लागू करना अर्थव्यवस्था के लिए घातक

अपनी ही सरकार को आर्थिक नीतियों पर कटघरे में खड़ा करने के बाद पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा गुरुवार को पहली बार मीडिया से रूबरू हुए। उन्होंने कहा कि सरकार ने कई बड़े फैसले लिए हैं लेकिन हम जानते हैं कि भारत की अर्थव्यवस्था में गिरावट आ रही है। सिन्हा ने कहा, ‘जीएसटी को जल्दबाजी में लागू किया गया। जब अर्थव्यवस्था चरमराई हुई थी तो नोटबंदी नहीं लानी चाहिए थी।

उन्होंने कहा कि 8 लाख करोड़ रुपए का पैसा एनपीए में फंसा हुआ है। देश की अर्थव्यवस्था में गिरावट हुई है। मुझे लगा कि बात को सामने रखना चाहिए। सिन्हा बोले कि मैं बीजेपी में जीएसटी का सबसे बड़ा पक्षधर रहा हूं, लेकिन 1 जुलाई से जीएसटी को लागू करने का कोई फायदा नहीं हुआ है, 1 अप्रैल से लागू करते तो परिणाम कुछ और होता। उन्होने कहा कि, सरकार में कन्फ्यूज़न की स्थिति है, कल्याण की योजनाओं के अलावा भी कई और सुधार करने होंगे। बैंक के एनपीए को लेकर को बड़ा फैसला लेना होगा।

हालांकि उनके बेटे और केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा उनके बात को सिरे से नकारते हुए कहा कि देश की आर्थिक स्थिति अच्छी है। देश तरक्की कर रहा है, जीएसटी का फायदा लोगों को मिलेगा, नोटबंदी का भी फायदा हुआ है।

आपको बता दें कि बुधवार को उन्होंने देश के आर्थिक हालात को लेकर सवाल उठाए थे और कहा था कि जीडीपी ग्रोथ भी निराशाजनक है। देश की आर्थिक हालत ठीक नहीं है, जिसको लेकर राजनीतिक काफी गरमा गई और केंद्र सरकार विपक्ष के सवालों से चौतरफा घिर गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *