भारत पर पड़ सकता है यूरोपीय यूनियन के 28 सदस्य देशों चुनाव का असर

नई दिल्लीः भारत में लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण का मतदान संपन्न हो चुका है। चुनाव के नतीजे 23 मई को सामने आएगें। मई में ही भारत के सबसे बड़े व्यापार सहयोगियों में से एक यूरोपीय यूनियन के 28 सदस्य देशों में भी चुनाव होने हैं। विशेषज्ञों ने आशंका जताई है कि चुनाव के नतीजों का असर भारत और ईयू के संबंधों पर पड़ सकता है।

जनसंख्या में भारत का आधा और क्षेत्रफल में थोड़ा बड़ा यूरोप के अधिकांश देश चुनावी सरगर्मी को झेलेंगे। कई देशों में सत्ता परिवर्तन का आसार दिखाई दे रहा है वहीं कई देश ऐसे भी हैं जहां सत्तारूढ़ पार्टी को ही जीत मिल सकती है।

क्या है यूरोपीय यूनियन
यूरोपीय यूनियन 28 यूरोपीय देशों का संगठन है। साल 1957 में 6 देशों बेल्जियम, फ्रांस, इटली, लक्जमबर्ग, नीदरलैंड्स ने इसको स्थापित किया था। साल 2015 तक के आंकड़ों के मुताबिक यूरोपियन यूनियन की आबादी 50 करोड़ से ज्यादा है। यूरोपीय यूनियन को साल 2012 में यूरोप में शांति और सुलह, लोकतंत्र और मानव अधिकारों की उन्नति में अपने योगदान के लिए नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *