जदयू ने किया तय, बिहार के बाहर भाजपा से गठबंधन नहीं

नई दिल्ली: जदयू ने तय किया है कि वह एनडीए का हिस्सा है और आगे भी बना रहेगा। वह बिहार में वर्ष 2020 का विधानसभा चुनाव एनडीए में रहकर लड़ेगा। पर उसका भाजपा से गठबंधन केवल बिहार में ही रहेगा। राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने रविवार को बाहर के राज्यों में अपने दम पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है।

एक, अणे मार्ग के लोकसंवाद में मुख्यमंत्री और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में ये निर्णय लिए गए।

पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारी, 21 राज्यों के अध्यक्ष समेत राष्ट्रीय कार्यकारिणी के 91 सदस्यों की मौजूदगी में करीब चार घंटे चली। इस बैठक के निर्णयों की जानकारी पार्टी के प्रधान महासचिव केसी त्यागी, राष्ट्रीय महासचिव संजय झा, पवन वर्मा और अफाक अहमद ने मीडिया को दी। त्यागी ने बताया कि हम दिल्ली, झारखंड, हरियाणा और जम्मू-कश्मीर में आसन्न विधानसभा चुनाव मजबूती से लड़ेंगे। कहां कितनी सीटों पर जदयू के प्रत्याशी होंगे, यह बाद में तय होगा।

बैठक में यह भी तय हुआ कि राष्ट्रीय पार्टी बनने की ओर अग्रसर जदयू 2020 में इस लक्ष्य को हासिल करेगा। त्यागी ने बताया कि अनुच्छेद 370, समान नागरिक संहिता, राम मंदिर निर्माण जैसे विवादित मुद्दों पर केन्द्र की सरकार अगर कोई निर्णय लेती है तो जदयू एनडीए में रहकर इनका विरोध करेगा। बैठक में बिहार के लोकसभा चुनाव और अरुणाचल विस में मिली जीत पर खुशी जाहिर की गई।

केंद्र की सरकार को पूर्ववत समर्थन

त्यागी ने कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को जदयू की ओर से मजबूती से और पूर्ववत समर्थन जारी रहेगा। बिहार में जदयू की अगुवाई में एनडीए की सरकार 2017 में ही बन गई थी। तब हमारे कुल 10 सांसद थे और हमने केन्द्र सरकार को समर्थन दिया। अब भी वैसे ही बाहर से समर्थन देंगे। सरकार में शामिल होने का सवाल ही नहीं उठता। बिहार की सरकार में दो साल से भाजपा को समानुपातिक मंत्री पद मिले हुए हैं, सिम्बालिक नहीं। यह भी कहा कि अमित शाह ने नीतीश कुमार को फोन कर नगालैंड में समर्थन मांगा। जदयू के इकलौते विधायक के समर्थन के कारण ही वहां एनडीए की सरकार बनी, अन्यथा नहीं बन पाती। वहीं, कार्यकारिणी की बैठक के बाद प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने कहा कि पीके बैठक में आए और नीतीश कुमार से उनकी बातचीत हुई। क्या बातें हुईं ये तो उन्हें नहीं पता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *