मेघालय: एक और कोयला खदान हादसे में 2 मजदूरों की मौत

नई दिल्लीः मेघालय (Meghalaya) के पूर्वी जयंतिया हिल्स जिले (East Jaintia Hills District) के मूकनोर जलिया गांव में कोयले की अवैध खान में काम कर रहे दो खदान कर्मियों की मौत हो गई है। यह हादसा ऐसे समय में हुआ है जब पूर्वी जयंतिया हिल्स जिले में ही पानी से भरी हुई एक कोयला खदान में फंसे हुए 15 श्रमिकों को बाहर निकालने के लिए बचाव एवं राहतकर्मी पिछले तीन सप्ताह से जुटे हुए हैं।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह घटना उस समय सामने आई जब फिलीप बारेह नामक एक व्यक्ति ने अपने भतीजे इलाद बारेह के शुक्रवार को घर से लापता होने की शिकायत दर्ज कराई। पुलिस अधीक्षक सिल्वेस्टर नोंगटगर ने बताया कि इलाद की तलाश करने पर उसका शव एक अवैध कोयला खदान में मिला। इसके अलावा पुलिस ने मनोज बसुमैत्री नामक एक अन्य नाबालिग का भी शव बरामद किया।

पुलिस के मुताबिक कोयला निकालने के दौरान बोल्डर से चोट लगने के कारण उनकी मौत हो गयी। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है तथा अवैध कोयला खदान मालिक को पकड़ने के लिए प्रयास कर रही है।

राज्य में कोयला खदानों की इन दुर्घटनाओं से पता चलता है कि राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) की ओर से 17 अप्रैल 2014 को मेघायल में कोयला खनन पर अंतरिम प्रतिबंध लगाने के बावजूद अवैध खनन जारी है। एनजीटी ने राज्य में अवैध कोयला खनन को रोकने में नाकामयाब रहने के कारण मेघायल सरकार पर 100 करोड़ रुपये का जुमार्ना लगाया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *