राहुल ने प्रधानमंत्री की तारीफ की, बताया खुद से अच्छा वक्ता

राहुल ने प्रधानमंत्री की तारीफ की, बताया खुद से अच्छा वक्ता
राहुल ने प्रधानमंत्री की तारीफ की, बताया खुद से अच्छा वक्ता

बार्कली यूनिवर्सिटी के छात्रों को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की। राहुल ने मोदी की तारीफ करते हुए पीएम को खुद से बेहतर कम्यूनिकेटर बताया। उन्होने कहा, ‘पीएम मोदी एक अच्‍छे वक्‍ता हैं। वह अपनी बात को बहुत अच्‍छी तरह से लोगों को समझाते हैं। वह जानते हैं कि तीन-चार समूहों तक अपनी बात कैसे पहुंचानी और फिर वो संदेश बड़े समूह तक पहुंच जाती है।’

बता दें की कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी 2 हफ्ते के दौरे के लिए अमेरिका गए हुए है। जहां उन्होने बार्कली यूनिवर्सिटी के छात्रों  को संबोधित करते हुए देश के विकास को लेकर अपना नजरिया रखा और भारत की मौजूदा स्थिति पर असंतोष जाहिर किया।  राहुल गांधी ने माना कि साल 2012 के कांग्रेस ने कई गलतियां  की, जिसके कारण कांग्रेस को  नुकसान उठाना पड़ा। इसके बाद पार्टी को पुनर्निर्माण की जरूरत है।

राहुल ने नोटबंदी के फैसले की जमकर निंदा की। उन्होंने कहा कि नोटबंदी लागू करने के लिए चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर या संसद की राय भी नहीं ली गई। राहुल ने कहा नोटबंदी की वजह से जीडीपी में 2 फीसद की गिरावट आई। भारत में नई नौकरियां बिलकुल पैदा नहीं हो रही हैं। वहीं आर्थिक विकास की रफ्तार भी नहीं बढ़ रही है। अर्थव्यवस्था को लेकर किए गए कुछ गलत फैसलों की वजह से किसानों की आत्महत्या के मामले बढ़ रहे हैं।

सिखों के साथ हिंसा को लेकर पूछे गए एक सवाल पर राहुल ने कहा कि उन्होंने हिंसा की वजह से ही अपनी दादी और बाद में पिता को खोया है। ऐसे में अगर वह हिंसा के प्रभाव को नहीं समझेंगे तो कौन समझेगा उन्होंने कहा कि वह लोगों को न्याय दिलाने और हिंसा के विरोध के लिए हमेशा खड़े हैं।

राहुल गांधी ने दावा किया कि मोदी सरकार में सांप्रदायिक और ध्रुवीकरण करने वाली ताकतें मजबूत हो रही हैं। राहुल ने कहा कि लिबरल जर्नलिस्ट्स की हत्या की जा रही है, दलितों को पीटा जा रहा है, मुस्लिमों और अल्पसंख्यकों को निशाना बनाया जा रहा है। अहिंसा का आइडिया आज खतरे में है। यही विचार है, जो मानवता को आगे ले जा सकता है। नफरत, गुस्सा और हिंसा हमें बर्बाद कर सकता है। ध्रुवीकरण की राजनीति बेहद खतरनाक है।

अतांकवाद के मुद्दे पर राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस की सरकार में आतंकियों की रीढ़ टूट गई थी। उन्होंने कहा, ‘जम्मू-कश्मीर में हमारी सरकार ने आतंक का खत्मा करने के लिए काफी कदम उठाए। हमने जब कश्मीर में आतंकवाद को खत्म करने के लिए काम करना शुरू किया, तब आतंकी अनियंत्रित थे। हालात काफी खराब थे। हमने वहां शांति कायम कर दी थी। हमने आतंकवाद की रीढ़ तोड़ दी थी।’

इस दौरान मॉडरेटर्स ने ऑडियंस में बैठी एक महिला को सवाल पूछने से रोक दिया। इस पर महिला ने कहा, “जब सब कुछ कंट्रोल हो रहा है तो इसे फ्री स्पीच कैसे कहा जा सकता है?” राहुल ने कहा, “बीजेपी एक मशीन की तरह है। करीब एक हजार लोग कंप्यूटर पर बैठे रहते हैं। वो आपको मेरे बारे में बताएंगे। ये (बीजेपी) एक खास तरह की मशीन है। वो पूरे दिन मेरे बारे में गलत प्रचार करती है। ये सब उस शख्स के इशारे पर हो रहा है जो देश चला रहा है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *