अब भारतीय सेना और भी होंगे मजबूत नए तंत्रो के साथ

नई दिल्लीः सीमा सुरक्षा बल भारत-पाक सीमा पर निगरानी के लिए मजबूत तंत्र बना रहा है। नौ अलग-अलग अत्याधुनिक किस्म के सेंसर का उपयोग घुसपैठ का पता लगाने के लिए किया जा रहा है। बीएसएफ का कहना है कि सभी तरह के जरूरी उपकरणों की खरीद की जा रही है, जिससे सीमा पर सुरक्षा तंत्र को अभेद्य बनाने में मदद मिले। समग्र और समेकित सीमा प्रबंधन व्यवस्था के तहत सीमा पर आधुनिक तरीके से निगरानी तंत्र विकसित करने का प्रयास हो रहा है। स्नाइपिंग से बचने के लिए सीमा सुरक्षा बल डीआरडीओ की मदद भी ले रहा है।

अत्याधुनिक उपकरणों की संख्या बढ़ेगी
सीमा सुरक्षा बल के सूत्रों ने कहा कि कई स्तरों पर तैयारी चल रही है। ड्रोन के अलावा स्पेस तकनीकी की मदद से निगरानी के अलावा अत्याधुनिक उपकरणों की संख्या बढ़ाई गई है। ऐसे सेंसर सीमा पर लगाए जा रहे हैं, जो पानी व जमीन के भीतर की गतिविधियों का भी पता लगा सकें। इससे छोटे-छोटे नालों व सुरंग का इस्तेमाल करके सीमा पार से घुसपैठ का प्रयास करने वाले आतंकियों को रोका जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *