'आंतकवाद' से निपटने के लिए बनायी गयी रणनीति

नई दिल्लीः आतंकवाद के ख़िलाफ़ एक जुट होने का समय आ गया है. आतंकवाद के ख़ात्मे के लिए पाकिस्तान की नापाक हरकतों को कुचलना बेहद ज़रूरी है. इसी के मद्देनज़र “नो मोर पाकिस्तान” विषय पर राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच के बैनर तले दिल्ली के हरियाणा भवन में ज़ोरदार संगोष्ठी आयोजित की गई .इस आयोजन में गणमान्य लोगों ने अपने बहूमुल्य विचार रखे।

संगोष्ठी में देश भर से सेवा निवृत आर्मी ऑफ़िसर, सेवा निवृत ख़ुफ़िया विभाग के वरिष्ठ अधिकारीगण और पुलिस विभागों में अपनी सेवा दे चुके अधिकारी शामिल हुए .

संगोष्ठी के बाद प्रेस कांफ्रेंस हुई. जिसमें सभी पूर्व अधिकारियों ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ क्या रणनीति होनी चाहिए, इस पर विस्तार से विचार रखा. अधिकारियों ने अपनी स्वयं के अनुभवों को भी साझा किया.

इस अवसर पर अधिकारियों ने कहा कि हम आतंकियों की कायराना हरकत की निंदा करते हैं. देश शहीदों की शहादत को व्यर्थ नहीं जाने देगा. अब समय आ गया है कि हमें पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देना चाहिए.

बालाकोट आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान में घुस कर जो एयर स्ट्राइक भारत ने किया है उसका सभी ने एक स्वर में भरपूर सराहना की. साथ ही कहा कि पाकिस्तान को राजनीतिक, आर्थिक और समाजिक रूप से विश्व मंच पर अलग-थलग करने की ज़रूरत है. इस मौक़े पर देश के अंदर पल रहे देशद्रोहियों की भी कड़ी भर्त्सना की गई. एयर स्ट्राइक के सबूत माँगने वालों की कड़ी निंदा की गई.

वरिष्ठ अधिकारियों ने इस मौक़े पर चीन की भी कड़ी निंदा की. आतंकी अज़हर मसूद को चीन की बदौलत ही अभी राहत मिली है. प्रेस कांफ्रेंस में चीन निर्मित सामानों के बहिष्कार का भी आह्वान किया गया.

इस मौक़े पर ट्रैक टू डिप्लोमेसी अपनाने पर भी ज़ोर दिया गया.

साथ ही यह भी प्रण लिया गया कि जम्मू कश्मीर में दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई है और इसे किसी क़ीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

पुलवामा में आतंक हमले में सीआरपीएफ के 44 जवानों के शहीद होने पर शोक व्यक्त किया.
इस मौक़े पर पूर्व अधिकारियों ने रोष व्यक्त किया कि सर्जिकल स्ट्राइक के बावजूद पाकिस्तान बाज़ नहीं आरहा है. पाकिस्तान को अपना तरीका सुधारने के लिए कहे जाने के बावजूद पाकिस्तान अपनी गतिविधियां लगातार जारी रखे हुए है. सेवा निवृत अधिकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भरपूर प्रशंसा करते हए आतंकवाद के ख़िलाफ़ जारी लड़ाई को अपना समर्थन देने की हर भारतीय से गुज़ारिश की गई. कार्यक्रम में लेफ्ट जन एच एस कंवर, लेफ्ट जन डी पी वत्स, लेफ्ट जन आर एस सबरवाल,लेफ्ट जन गुरमीत सिंह, ब्रिगेडियर राकेश छिब्बर, मेजर जन अजय आनंद, श्री महेश सिंघला आई पी एस , श्री मेहताब सिंह आई ए एस, श्री शेखर दत्ता पूर्व गवर्नर,लेफ्ट जन वी के चतुर्वेदी, मेजर जन रंजीत सिंह, श्री सुरेश शर्मा रिटायर्ड डी जी पी पंजाब, एयर मार्शल आर सी बाजपाई, एयर मार्शल आर के उपाध्याय, एयर वाईस मार्शल ए के नाभ ने अपना विचार व्यक्त किये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *