अलीगढ़ में फिर दूसरी बार सामने आया तीन तलाक का मामला,दहेज की मांग पूरी न होने पर पति ने बोला- तलाक तलाक तलाक

नई दिल्ली: अलीगढ़ में तीन तलाक का दूसरा मामला मंगलवार को सामने आ गया। जब एक महिला ने अपने पति पर दहेज की मांग पूरी न होने पर तलाक देने का आरोप लगाया। एसएसपी से न्याय की गुहार लगाने पहुंची महिला की फरियाद पर एसएसपी आकाश कुलहरि ने देहली गेट पुलिस को मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई के आदेश दिए। मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

मामला देहली गेट थाना क्षेत्र के मोहल्ला हड्डी गोदाम का है। यहां निवासी दरकसा का निकाह चार फरवरी 2019 को मोहल्ले के ही मुकीम के साथ हुआ था। आरोप है कि ससुरालियों ने दहेज में एक लाख रुपये व बाइक की मांग करना शुरू कर दिया। मांग पूरी न होने पर प्रताड़ित करने लगे। परिजनों का आरोप है कि ससुरालियों ने दरकसा को गर्भपात की दवा तक खिला दी। इससे दरकसा की दिमागी हालात बिगड़ गई।

रविवार की रात जेठ ने दरकसा के साथ मारपीट कर दी। शोर-शराबा सुनकर आस पड़ोस के लोग भी आ गए। खबर मिलते ही भाई अकबर भी बहन की ससुराल पहुंच गया। विरोध करने पर जेठ ने भाई अकबर की भी बेरहमी से पिटाई कर दी। पति मुकीम ने तलाक-तलाक-तलाक कहते हुए धक्का देकर घर से निकाल दिया। घटना के बाद पीड़िता थाने पहुंची तो पुलिस ने मामला घरेलू विवाद बताकर टरका दिया।

मंगलवार को पीड़िता हिंदू युवावाहिनी के आदित्य पंडित के साथ एसएसपी आकाश कुलहरि से मिली और न्याय की गुहार लगाई। उन्होंने मामले को गंभीरता से लेते हुए थाना प्रभारी को आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दे दिए। एसएसपी के आदेश पर पुलिस हरकत में आ गई। पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर पति मुकीम, ससुर कमर, जेठ आबाद, सादाब, सास सकीला, ननद रुकसार, देवर सलमान, तोसिफ के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

अलीगढ़ में तीन तलाक का दूसरा मुकदमा
अलीगढ़ में तीन तलाक का यह दूसरा मुकदमा दर्ज हुआ है। इससे पहले क्वार्सी थाना क्षेत्र के नगला पटवारी निवासी शिक्षिका अंजुम कमाल ने पति समेत दस लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था।

जेठ के खिलाफ छेड़छाड़ का मुकदमा
देहली गेट निवासी महिला ने अपने जेठ पर मारपीट करने व छेड़छाड़ करने का आरोप भी लगाया है। पुलिस ने महिला के पति समेत आठ के खिलाफ, दहेज एक्ट, छेड़छाड़ और तीन तलाक की धाराओं में मामला दर्ज किया है।

पीड़ित युवती ने दहेज की मांग पूरी न होने पर तलाक देने का आरोप लगाया था। पीड़िता की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। अभी पूरे मामले की जांच की जा रही है। -अनिल समानिया, प्रभारी सीओ प्रथम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *