यूपी बोर्ड की हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट परीक्षाएं हुई शुरू, केंद्र पर पहुंचे शिक्षा मंत्री

नई दिल्लीः यूपी बोर्ड की हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट परीक्षा आज से शुरू हो गई हैं। पहली पारी में हाईस्कूल के छात्र परीक्षा दे रहे हैं। बोर्ड परीक्षा नकल विहीन कराने के लिए शासन की ओर से जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक के साथ एसटीएफ को परीक्षा की जिम्मेदारी दी गई है। बोर्ड परीक्षा में हाईस्कूल में 3195603 एवं इंटरमीडिएट में 2611319 कुल 5806922 परीक्षार्थी 8354 केंद्रों पर परीक्षा में शामिल होंगे।

बोर्ड की ओर से पहली बार नकल रोकने केलिए परीक्षार्थियों को अब उत्तर पुस्तिका के हर पृष्ठ पर रोलनंबर और कॉपी के प्रथम पृष्ठ पर दर्ज कॉपी कोड को लिखना होगा। यूपी बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि बोर्ड की ओर से पहली बार परीक्षा में सभी 75 जिले में कोडिंग वाली कॉपी प्रयोग में लाई जा रही है। अब कॉपी के हर पृष्ठ पर रोलनंबर और कॉपी की कोडिंग लिखे जाने के आदेश के बाद कॉपी बदले जाने की घटना पर रोक लगेगी।

यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि बोर्ड के पास लगातार आती है कि उनकी कॉपी बदल दी गई है। इस प्रकार की शिकायतों को दूर करने और नकल रोकने के लिए शासन के निर्देश पर बोर्ड ने पहली बार कॉपी के हर पेज पर रोलनंबर और कॉपी की कोडिंग लिखना अनिवार्य कर दिया है। बोर्ड सचिव की ओर से इस प्रकार के आदेश सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों के साथ केंद्र व्यवस्थापकों को भेजा गया है। सचिव नीना श्रीवास्तव का कहना है कि कॉपी के हर पृष्ठ पर जब परीक्षार्थी अपने से रोलनंबर और कॉपी कोड लिखेगा तो भविष्य में कॉपी बदले जाने की शिकायत पर बोर्ड उसकी हैंड राइटिंग का मिलान कर सकेगा। इससे मेधावी छात्रों की कॉपी बदलकर दूसरे का रोलनंबर लिखकर फर्जीवाड़ा करना मुश्किल होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *